छोटे भाई कि चुदाई की hot kahani

By | November 8, 2018

छोटे भाई कि चुदाई की hot kahani || chote bhai ke chudaye ki hot kahani

मैं आज आपको अपनी आबीती बताने जा रही हूं मेरा छोटा भाई अभी मुठ मरना सिखा है उसका मोटा लंड देखकर मेरी चूत मचल गई और अपने भाई को जन्नत दिखाने की मैंने ठान ली है

दोस्तों मेरा नाम नैना है और मेरा छोटा भाई अमन दसवीं क्लास में पढ़ता है वह गोरा चिटा करीब मेरे ही बराबर लंबा भी है मैं इस समय 21 साल की हूं और वह अभी 15 साल का मुझे भैया के गुलाबी हॉट बहुत प्यारे लगते दिल करता है कि बस चबा लू पापा क्लर्क में है और मां गबरमेंट जॉब  में मां जब जॉब की वजह से कहीं बाहर जाती तो घर में मैं बस हम तो भाई बहन ही रह जाते थे

मेरा भाई का नाम अमन है और वह मुझे दीदी कहता है एक बार माँ कुछ दिनों के लिए बाहर गई थी और पापा उनकी इलेक्शन ड्यूटी लग गई मां को एक हफ्ते बाद आना था रात में डिनर के बाद कुछ देर टीवी देखा फिर अपने अपने कमरे में सोने के लिए चले गए एक घंटे बाद प्यास लगने की वजह से मेरी नींद खुल गई अपनी सीधे टेबल पर बोतल देखा तो वह खाली लौटकर किचन में पानी पीने गई तो लौटते समय देखा अमन की कमरे की लाइट ओन थी और दरवाजा भी थोड़ा सा खुला था मैंने सोचा दरवाजा कर देती हूं मैं चुपके चुपके कमरे में गई लेकिन अंदर का नजारा देखकर मैं हैरान हूं कि अमन एक  में कोई किताब पकड़ कर उसे पढ़ रहा था और दूसरे हाथ से लंड अपने लंड को पकड़कर मुट्ठ मार रहा था

मैं दम साधे चुपचाप खडी होके उसकी हरकते देख रही थी शायद उसको पता चल गया था कि मैं पास में खड़ी हूं उसने मेरी तरफ मुंह फेरा और दरवाजे पर मुझे खड़ा देखकर चोक गया वह बस देखता रहा कुछ भी ना बोला फिर उसने मुंह फेर कर किताब तकिए के नीचे छुपा दी मुझे समझ में ना आया कि क्या करूं मेरे दिल में ख्याल आया कि कल से यह लड़का मुझसे शर्माआएगा और बात करने से भी कतराएगा घर में इसके अलाबा और कोई है भी नहीं जिसे मेरा मन बहलता मुझे अपने दिन याद आए मैं और मेरा कजन इसी उम्र के थे जब से हमने मजा लेना शुरू किया था इसमें कौन सी बड़ी बात है, अगर यह मुठ मार रहा था,

मैं धीरे धीरे उसके पास गई उसके कंधे पर हाथ रख कर उसके पास ही बैठ गई मैंने कहा “अरे अमन अगर यही करना था तो कम से कम दरवाजा तो बंद कर लिया होता” वो कुछ नहीं बोला मुँह दूसरी तरफ किए लेटा रहा अपने हाथों से उसका मुंह अपनी तरफ किया और बोली “अभी से यह मजा लेना शुरू कर दिया कोई बात नहीं मैं जाती हूं तू अपना मजा पूरा कर ले”

मैं उसको सुनाते हुए बोला मेरा कजन भी बहुत मस्त सेक्स की किताबे लाता था और हम दोनों ही मजे लेने के लिए साथ साथ पढ़ते थे और वो इस तरह पड़ती थी सुरु व के समय किताब के डायलॉग बोल बोल कर एक दूसरे का जोश भर आता था मस्ती भरी सेक्सी किताबें पढ़ते थे इतने बोलने के बाद वो पहली बार बोला “दीदी सारा मजा तो अपने खराब कर दिया अब क्या करूंगा फिर मै बोली अरे अगर तुमने दरवाजा बंद किया होता तो मैं आती ही नहीं फिर भई बोला “अगर आप ने देख लिया था तो चुपचाप चली जाती ना”

अगर मैं बहस में जीतना चाहती तो आसानी से जीत जाती लेकिन मेरा भई 6 month से  नहीं आया था और मेरा छोटा भाई था और बहुत ही सेक्सी लगता था मैं कुंवारे लंड का मजाक पहली बार लेती इसलिए मैंने कहा चल अगर मैंने तेरा मजा खराब किया है तो मैं ही तेरा मजा वापस कर देती हूं फिर मैं पलंग पर बैठ गई मुरझाए लंड को अपनी मुट्ठी में ले लिया उसने बचने की कोशिश की पर मैंने लंड को पकड़ लिया था अब मेरे भाई को यकीन हो चुका था जिसका राज नहीं खोलूंगी इसलिए उसने अपनी टांगे खोल दी ताकि मैं उसका लंड ठीक से पकड़ सकूं मैने उसके लंड को बहुत हीलाया डुलाया लेकिन वह खड़ा नहीं हुआ वह बड़ी मायूसी के साथ बोला देखा दीदी अब खड़ा ही नहीं हो रहा

फिर मैं बोली अरे क्या बात करते हो अभी तुमने अपनी बहन का कमाल कहां देखा और मैं उसका लंड चलाने लगी उसे किताब पढ़ने को कहा वो बोला दीदी मुझे शर्म आती है फिर मैं बोली साले अपना लंड बहन के हाथ में देते समय शर्म नहीं आई उस book में भाई बहन के डायलॉग थे मैं बोली तुम लड़के वाला बोलना मैं लड़की वाला बोलूंगी और first मेरी लाइन थी तो मैं start की

मै बोली- “अरे राजा मेरी चुचियों का रस तो बहुत पी लिया अब अपना बनाना भी तो टेस्ट कराओ

भई बोला- “अभी लो रानी पर मैं डरता हूं इसलिए कि मेरा लंड बहुत बड़ा है तुम्हारे नाज़ुक कासी चूत में कैसे जाएगा

बुआ की बेटी के साथ Sex कि desi kahani

और इतना पढ़ कर हम दोनों ही मुस्कुरा दिए क्यों की यह हालत बिल्कुल उल्टे थी उसकी बड़ी बहन थी मैं और मेरी चूत बड़ी थी और उसका लंड छोटा था वो शरमा गया लेकिन थोड़ी सी पढ़ाई के बाद ही उसके लंड में जान भर गई मैं उसके लंड की पूरी मुट्ठ मार रही थी वह मजे ले रहा था बीच-बीच में सिसकारियां भी भरता था थोड़ी देर के बाद उसके लंड ने गाड़ा पानी फेक दिया जो मेरी हथेली पर गिरा मैंने बोला क्यों भैया मजा आया सच दीदी बहुत मजा आया

फिर मैं बोली अच्छा यह बता कि खयालो में किसकी ले रहे थे दीदी शर्म आती है बाद में बताऊंगा इतना कह कर उसने तकिए में मुंह छुपा लिया फिर मैं अपने कमरे में आ गई अपनी सलवार कमीज उतारकर नाइटी पहनने लगी तो देखा कि मेरी पैंटी पूरी तरह भीगी हुई थी फिर मैं अपनी चूत को सहलाने लगी मैं बेड पर लेट गई, चूत की आग बूजने का कोई रास्ता नहीं था शिवा अपनी उंगली के तकिया को सीने से कस कर पकड़ के दूसरा तकिये को जांघो के बीच दबा कर आंखें बंद की रमन के लंड को याद करके उंगली अंदर बाहर करने लगी फिर अमन मेरे सामने आ गया मुझे देख कर हंसने लगा

मैं क्या करती मैं तो अपनी चूत में उंगली अंदर बाहर कर रही थी फिर हम दोनों हंसने लगे और आकर बैड पर बैठ गया वो मेरे पास बैठ कर मेरी कमर पर हाथ फेरने लगा उसका स्पर्श सेक्सी था मेरे पूरे बदन में जोस् आ गई थी थोड़ी देर बाद मैंने करवट लेकर अमन की और मुंह कर लिया और उसके जांघ पर हाथ रख कर ठीक से बैठने को कहा करवट लेने से मेरी चूचियां और कड़क हो गई थी और ज्यादा बाहर निकल आई थी उसकी जांग पर हाथ रखते हूँ ही मैंने पहले की बात को आगे बढ़ाया तुझे पता है कि लड़की कैसे पटाई जाती है अरे दीदी अभी तो मैं बच्चा हूं

छोटे भाई कि चुदाई की hot kahani || chote bhai ke chudaye ki hot kahani

यह सब बात आप बताएंगे तभी तो मालूम होगा  फिर तो वो मेरे ऊपर चढ़ गया और मेरी चूत पर अपना हाथ फ़ेर-फ़ेर कर मुझे पागल करने लगा मेरे भाई ने तो आज ऐसा कर दिया की बस,  आज तो वो मुझे चोदे बिना नहीं छोड़ेगा फिर उसने देर ना करते हुए उसका लंड पूरा खड़ा हुआ था मेरे मुंह के अंदर अपना लंड डाल दिया और मेरी चूत के साथ आपने उंगलियां से खेलने लगा आ आह क्या सुकून था मुझे ऐसा लग रहा था कि उसका लंड और उसका पूरा हाथ अपनी चूत के अंदर डलवा दू फिर मैंने बोला भाई अब नीचे आ जा और देर ना करते हुए उसने अपना लंड मेरी चूत पर रखा और एक ही झटके में पूरा लंड मेरी चूत के अंदर घुसेड़ दिया और चोदना start करदिया और बोला दीदी आपकी चूत को चोदने में मज़ा आ रहा है आज पहली बार मेने किसी की चूत को चोद रहा हु

छोटे भाई कि चुदाई की hot kahani || chote bhai ke chudaye ki hot kahani

और करीब 2 घंटे तक मेरी चूत को चोदता रहा उसने मेरी गाड़ तक मारी आह क्या मजा था मै चीखती रही चिल्लाती रही पर वो पूरे जोश में था और उसने मेरी चूत और गाड़ दोनों फाड् दिया अब तो मैं अपने भाई को भी पूरा मजा देती और भाई से भी पूरा मजा लेती थी भाई बोला अब मुझे भी मुठ मारने की जरूरत नही है और तुम्हे भी चूत में ऊँगली घुसाने कि जरूरत नही जब भी लंड खड़ा होगा तभी ही तुमारी चूत चोद कर मन भर लेंगे। अब हम दोनों हमेशा चुदाई करते हैं ऐसा लगता है अब मेरा पति वही बन गया हैं। जैसे पति पत्नी रात में चुदाई करते वैसे ही हम भी हम दोनों भी रत में हे चुदाई करता है  तो दोस्तों यह थी मेरी सच्ची छोटे भाई कि चुदाई की hot kahani  आपको कैसी लगी हमे comment जरूर बताये और अगर आपको मेरे छोटे भाई कि चुदाई की hot kahani पसंद आई तो अपने friend के साथ whatsapp और facebook पर share करे ताकि हम इस site को और बेहतर बना सके।

One thought on “छोटे भाई कि चुदाई की hot kahani

  1. Pingback: मुस्लिम आंटी कि चुदाई  हिंदू लंड से chudai story xxkahani

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *